जिला कलक्टर ने तलब की NH मार्गों की रफनेस इंडेक्स रिपोर्ट


जयपुर, 20 नवम्बर। जिला कलक्टर श्री जगरूप सिंह यादव ने एनएचएआई को राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 8 की अवाप्तशुदा भूमि पर अवैध अतिक्रमण एवं अवरोध तुरन्त प्रभाव से हटवाने, सर्विस लेन एवं 6 लेन के बीच बने नाले की सफाई करवाने एवं 6 लेन पर अधिकृत कट से ही वाहनों के सर्विस लाइन में प्रवेश की व्यवस्था किए जाने के निर्देष दिए हैं। उन्होंने जयपुर जिले से गुजरने वाले एनएचएआई राजमार्गोें का रफनेस इंडेक्स प्रस्तुत करने के भी एनएचएआई को निर्देश दिए हैं।


जिला कलक्टर ने निर्देश दिए हैं कि एनएच से लगती हुई संपरिवर्तित भूमियों पर नियम विरुद्ध अवैध निर्माणों को सम्बन्धित राजस्व अधिकारी चिन्हित कर हटवाया जाना सुनिश्चित करेंगे जिससे संपरिवर्तन नियमों की पालना करवाई जा सके एवं इनकी वजह से होने वाली दुर्घटनाओ को नियंत्रित किया जा सके। श्री यादव ने बताया कि एनएच संख्या 8 पर विभिन्न जगहों पर सड़क खराब होने, जगह-जगह सर्विस लाइन टूटी होने तथा एन.एच.ए.आई की भूमि पर अतिक्रमणों में निर्माण से आए दिन दुर्घटनाओं की आशंका बनी रहती है। अतिरिक्त जिला कलक्टर, उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार एवं पुलिस अधिकारियों से प्राप्त फीडबैक के अनुसार एनएचएआई की इन अव्यवस्थाओं के कारण एनएच 8 एवं सर्विस लेन को अलग करने वाला नाला भी जगह-जगह अवरूद्ध हो रहा है। इससे सर्विस लाइन से बिना रोक-टोक एनएच पर वाहनों का आवागमन बना रहने से दुर्घटनाएं होती रहती हैं।


अवैध पार्किग दुर्घटनाओं का बड़ा कारण, एनएचएआई, पुलिस, राजस्व अधिकारी मिलकर सोचें हल
जिला कलक्टर श्री यादव ने बताया कि 6 लेन पर अवैध रूप से खडे़ किए जाने वाले वाहनों से भी लगातार दुर्घटनाएं होती रही हैं एवं रास्ता बाधित होता है। यहां तक कि शाहपुरा, पावटा, कोटपूतली में कुछ दूरी पर दोनों ओर 6 लेन में से 1-1 लेन तो खडे़ वाहनों द्वारा ही बाधित कर दी जाती है। इससे बार-बार जाम लगा रहता है एवं दुर्घटना होने से कई बार कानून व्यवस्था की जटिल स्थिति उत्पन्न हो जाती है। उन्होने सम्बन्धित विभाग अधिकारी, एनएचएआई, पुलिस, राजस्व अधिकारियों को इस समस्या के त्वरित निराकरण के निर्देश दिए हैं।
टोल पर अव्यवस्थाएं ठीक करें


एनएचआई को लिखे पत्र में श्री यादव ने बताया कि मनोहरपुर एवं दौलतपुरा टोल की व्यवस्थाएं भी निरीक्षण में संतोषजनक नहीें पायीं गईं हैं। इन टोल बूथों पर बार-बार 10-12 मिनट का जाम लगना आम बात है जिससे वाहन चालकों द्वारा झगड़े की नौबत आती है। समय-समय पर कानून व्यवस्था भंग होने का भय भी बना रहता है। साथ ही एनएच से जो प्रमुख सड़कें यथा स्टेट हाईवे जिला सड़कों के मोड़ पर भी न तो सही संकेतक लगे हुए हैं और न ही प्रमुख बिन्दुओं पर कोई कार्मिक टेªफिक व्यवस्था के नियंत्रण हेतु उपलब्ध रहता है। श्री यादव ने जयपुर जिले में स्थित टोल प्लाजा पर इमरजेंसी निकास की समुचित व्यवस्था कराने, कार्यरत कार्मिकों को वर्दी अनिवार्य करने तथा अनुषासन में रहकर नम्रता से बातचीत करने के निर्देश प्रदान करने एवं ज्यादा वाहनों की स्थिति में चल मशीन से शुल्क लेकर वाहनेां की निकासी जल्द करवाना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही कार्यरत स्टाफ को समय-समय पर प्रशिक्षण दिलवाया जाना सुनिश्चित करन के लिए निर्देशित किया है।


Comments