स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में 30 करोड़ के संसाधन खरीदे जायेगें


जयपुर, 19 दिसम्बर। शहर में मलबे और कचरे को उठाने और उसे निर्धारित स्थान तक पंहुचाने की प्रक्रिया को और मजबूत करने के लिए नगर निगम ने अपने संसाधनों में 10 नये डम्पर शामिल किये है। स्वायत्त शासन, नगरीय विकास एवं आवासन मंत्री श्री शांति धारीवाल ने गुरूवार को अपने आवास से इन डम्परों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के फ्लैक्स और स्टीकरों से सजे इन डम्परों को रवाना करने से पूर्व श्री धारीवाल ने डम्पर चालकों को माला पहनाकर उनका अभिनन्दन किया।


शहर की सफाई के लिए 30 करोड़ के संसाधन खरीदे जायेगें-
मीडिया से मुखातिब होते हुए श्री धारीवाल ने कहा कि शहर की सफाई व्यवस्था को और मजबूत करने के लिए स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत 30 करोड़ रू. के नये संसाधन खरीदे जायेगें। उन्होने बताया कि 35 रिफ्यूज्ड काॅम्पेक्टर, 150 हूपर, 4 मैकेनाइज्ड रोड स्वीपर, 100 ई-रिक्षा, हाथ गाड़ियां व लिटरबिन खरीदे जायेगें।
प्रषासक विजयपाल सिंह ने बताया कि 16 टन क्षमता के 10 डम्पर खरीदे गये हैं। लगभग 1.88 करोड़ रू. की लागत से खरीदे गये इन डम्परों के निगम के बेड़े में शामिल होने से डम्पर वाहनों में 50 प्रतिषत की वृद्धि हुई है।


यह होगा फायदा-
- शहर के विभिन्न क्षेत्रों से मलबा, मिट्टी आदि को तुरन्त हटाया जा सकेगा।
- पार्कों के कचरे, गंदी गलियों, सीवर सफाई के दौरान निकले मलबे का परिवहन तुरन्त
होगा।
- अतिक्रमण हटाने के दौरान सीएनडी वेस्ट का त्वरित परिवहन।
- सफाई की वैकल्पिक व्यवस्था को मजबूती मिलेगी।


स्वच्छ सर्वेक्षण-2020 के  हस्ताक्षर अभियान का किया शुभारम्भ- इस अवसर पर श्री धारीवाल ने स्वच्छ सर्वेक्षण-2020 के प्रति आमजन में जागरूकता पैदा करनेे के लिए हस्ताक्षर अभियान का शुभारम्भ किया। उन्होने हस्ताक्षर बोर्ड पर हस्ताक्षर करते हुए निगम अधिकारियों को निर्देष दिये कि इन बोर्डों को कचरा डिपो के पास में रखवाया जाये ताकि लोगों पर ज्यादा प्रभाव पड़े। गौरतलब है कि स्वच्छ सर्वेक्षण-2020 में जयपुर को नम्बर वन बनाने में ज्यादा से लोगो की भागीदारी सुनिष्चित करने के लिए निगम ने  हस्ताक्षर अभियान भी शुरू किया है।
इस दौरान सरकारी मुख्य सचेतक महेष जोषी, बगरू विधायक गंगा देवी, स्वायत्त शासन विभाग के सचिव भवानी सिंह देथा, निदेषक स्थानीय निकाय विभाग उज्जवल राठौड़ अतिरिक्त आयुक्त अरूण गर्ग सहित नगर निगम के अधिकारी एवं अन्य जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।


Comments