चायनीज मांझे की रोकथाम के लिए जिला प्रषासन ने चलाया सघन अभियान, 22 टीमों ने पूरे शहर में 100 से अधिक दुकानों की जांच


-जिला प्रषासन के प्रयासों का असर, एक भी दुकान पर नहीं मिला चाइनीज मांझा
- पांच अतिरिक्त जिला कलक्टर्स ने भी लिया कार्यवाही में हिस्सा
जयपुर, 11 जनवरी। जिला कलक्टर डाॅ.जोगाराम के निर्देष पर जिला प्रषासन के करीब दो दर्जन अधिकारियों ने शनिवार को जयपुर शहर के विभिन्न इलाकों में चाइनीज मांझे एवं खतरनाक धातु, लोहा चूर्ण आदि से बने मांझे की जब्ती एवं रोकथाम के लिए सघन अभियान चलाकर शहर के 100 से भी अधिक पतंग विक्रेताओं की दुकानों और स्टाॅक की जांच की।


जिला कलक्टर ने बताया कि शनिवार को अपराह्न 3 बजे से 6 बजे तक की गई सघन जांच के परिणाम आषानुरूप रहे और शहर मंें किसी दुकान पर चाइनीज मांझे की बिक्री एवं स्टाॅक नहीं पाया गया। उन्होंने बताया कि यह परिणाम शहर में पिछले एक महीने से चायनीज मांझे की रोकथाम के लिए किए जा रहे जिला प्रषासन की प्रयासों के अनुरूप ही था। जयपुर पतंग विक्रेता संघ ने भी चाइनीज मंाझे के व्यापार पर प्रतिबन्ध लगाया है एवं विद्यालयों में षिक्षा विभाग द्वारा विद्यार्थियों की समझाइष एवं पुलिस-प्रषासन द्वारा जांच की कार्यवाही की जा रही है।


डाॅ.जोगाराम ने बताया कि मकर संक्रान्ति के अवसर को देखते हुए चाइनीज एवं खतरनाक मांझे की पूर्ण रोकथाम के लिए शनिवार को चलाए गए सघन अभियान में अतिरिक्त जिला कलक्टर तृतीय श्री राजेन्द्र सिंह कविया, चतुर्थ श्री अषोक कुमार, पूर्व श्री राजीव पाण्डे, उत्तर श्री बीरबल सिंह, दक्षिण श्री शंकरलाल सैनी समेत सभी उपखण्ड अधिकारी, सहायक कलक्टर, डीआईजी स्टाम्प्स, सभी तहसीदारों को शामिल करते हुए 22 दलों का गठन किया गया। इन्हें अपराह्न 3 बजे से सायं 6 बजे तक चाईनीज मांझे के सम्भावित बिक्री स्थलों, दुुकानों का आवंटित क्षेत्रवार औचक निरीक्षण करने के निर्देष दिए गए थे।


निर्देषानुसार सभी निरीक्षणकर्ता अधिकारियों ने अपने आवंटित क्षेत्र में चाइनीज मांझे की दुकानों, स्थलांे पर अपनी पहचान को गुप्त बनाये रखते हुये, बोगस ग्राहक बनकर कार्यवाही की।    सभी अधिकारियों को न्यूनतम पांच बिक्री स्थलों का औचक निरीक्षण करने को कहा गया था। कई अधिकारियों ने निर्धारित से दोगुने स्थलो,ं दुकानों का निरीक्षण किया।
जिला कलक्टर ने बताया कि जिले के अन्य उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार, नायब तहसीलदार  को भी उनके अपने-अपने क्षेत्र में चाईनीज मांझे के सम्बन्ध में औचक निरीक्षण कर रिपोर्ट देने के निर्देष दिए गए हैं।


Comments