हमारी सदी का मकसद है गर्ल्स एजुकेशन: यूनेस्को महानिदेशक


जयपुर, 5 फरवरी। यूनेस्को की महानिदेषक श्रीमती ऑड्रे अजोले ने बुधवार को आमेर स्थित राजकीय बालिका माध्यमिक विद्यालय का भ्रमण किया। आमेर किले के भ्रमण के बाद श्रीमती अजोले सुबह करीब 11ः15 बजे विद्यालय पहुंचीं तथा यहां छात्राओं से गर्मजोषी के साथ मुलाकात की। विजिट पूरी करने के बाद श्रीमती अजोले ने विद्यालय को दिए अपने संदेष में कहा कि हमारी इस सदी का मकसद गर्ल्स एजुकेषन है।


श्रीमती अजोले ने एक कक्षा में छात्राओं से इंटरेक्षन के दौरान कहा कि वे तन्मयता के साथ अपनी पढ़ाई पूरी करें और अपनी पढ़ाई को समाज और आस-पास के वातावरण की बेहतरी के लिए काम में लें। श्रीमती अजोले छात्राओं के एक सेल्फ डिफेंस डेमो से काफी प्रभावित हुई। उन्होंने कहा कि सेल्फ डिफेंस की यह तकनीक दूसरी छात्राओं को भी सिखानी चाहिए ताकि हम अपनी सोसायटी के लिए कुछ अच्छा कर पाएं। उन्होंने कक्षा कक्षों में जाकर छात्राओं के समूहों और अध्यापिकाओं से शैक्षणिक और सह-षैक्षणिक गतिविधियों के बारे में चर्चा की।


अपनी लगभग 40 मिनट की विजिट में श्रीमती अजोले ने यूनिसेफ के सहयोग से चल रहे विद्यालय में चल रहे प्रोजेक्ट प्रज्ज्वला पर भी चर्चा की और छात्राओं से जाना कि किस प्रकार इस प्रोजेक्ट का फायदा बालिकाओं को मिल रहा है। उन्होंने कम्प्यूटर कक्ष, हैल्थकेयर, ब्यूटीकेयर तथा आर्ट एंड क्राफ्ट प्रषिक्षण कक्षों में भी छात्राओं से मुलाकात की।
इस अवसर पर अतिरिक्त जिला कलक्टर-उत्तर श्री बीरबल सिंह, समसा की स्टेट प्रोजेक्ट डायरेक्टर डॉ. रष्मि शर्मा, विद्यालय की प्राचार्या श्रीमती मंजुलता सहित अन्य षिक्षिकाएं और अधिकारी उपस्थित थे।


Comments