शहर की विरासत को अद्भुत तरीके से संजोया गया है, इसकी अहमियत विश्वव्यापी है-ऑड्रे अजोले यूनेस्को महानिदेशक ने जयपुर की विरासत को बताया अद्भुत


जयपुर, 5 फरवरी।  जिस तरह से इस शहर को आगंतुको राजस्थान और भारत के लोगों के लिए संजोकर रखा गया है, वह अद्भुत है। विरासत की दृष्टि से यह शहर वास्तव में एक खजाना है इसकी अहमियत विश्वव्यापी है जिसके चलते ही इसे यूनेस्को विश्व विरासत स्थल की सूची में स्थान दिया गया है। इस शहर की बहुमूल्यता विश्व के लिए महत्वपूर्ण संदेश देती है। इस शहर की विरासत मानव प्रतिभा और विविधता का अनूठा संदेश है। प्रभावशाली विविधताओं के कारण ही यह कला जन्म ले पाई है। यूनेस्को महानिदेशक ऑड्रे अजोले ने बुधवार को हवा महल के दौरे के दौरान विजिटर्स बुक में शहर के लिए यह कमेन्ट लिखकर न केवल जयपुर वासियों को बल्कि प्रत्येक भारतीय को गौरवान्वित कर दिया।


 


यूनेस्को महानिदेशक ऑड्रे अजोले बुधवार को जयपुर दौरे पर रही । इस दौरान उन्होंने यूनेस्को के अन्य प्रतिनिधियों के साथ आमेर किले का भ्रमण किया। उन्होंने आमेर किले की स्थापत्य कला का बारिकी से अवलोकन किया एवं शानदार स्थापत्य की प्रशंसा की। इस दौरान उन्होंने किले की वास्तुकला के बारे में बारिकी से जाना और उसकी भूरी-भूरी प्रशंसा की। आमेर किले से उन्होंने जयपुर की खुबसूरत बसावट को कई बार निहारा।


 


यूनेस्को और जयपुर के बीच वर्षो से अटूट रिश्ता है-


इस दौरान मीडिया से मुखातिब होते हुए उन्होंने कहा कि राजस्थान की भव्यवता विश्वव्यापी है। जिसको देखते हुए ही जयपुर शहर को विश्व विरासत स्थल का दर्जा दिया गया है। उन्होंने कहा कि यूनेस्को और जयपुर के बीच अटूट रिश्ता है, जो संस्कृति और विरासत के आधार पर वर्षो से चला आ रहा है। जयपुर को विश्व विरासत स्थल का दर्जा देकर इस रिश्ते को ही आज इस रूप में संजोया गया है।


 


जल महल और हवा महल के सामने खिचवाई फोटो -


यूनेस्को महानिदेशक जयपुर की सुंदरता से इस कदर अभिभूत हुई की उन्होंने कई स्थानों पर फोटो खिचवाई। उन्होंने जल महल और हवा महल के सामने फोटो खिचवाकर जयपुर भ्रमण की यादों को संजोया।


 


हवा महल से देखा जयपुर का विहंगम दृश्य-


यूनेस्को महानिदेशक ने हवा महल के ऊपर से जयपुर का विहंगम दृश्य देखा और जयपुर की खूबसूरती की जमकर प्रशंसा की। इस दौरान वहॉ चल रहे कठपुतली शो को देखने से वह खुद को नही रोक पाई। कलाकारों की कलाकारी से वे इस कदर प्रसन्न हुई की उन्होंने कठपुतली हाथ में लेकर कलाकारों के साथ फोटो खिचवाई।


 


विश्व विरासत स्थल पट्टिका का किया अनावरण-


यूनेस्को महानिदेशक ने नगर निगम जयपुर द्वारा हवा महल के बाहर लगवाई गई विश्व विरासत स्थल पट्टिका अनावरण किया। पत्थर पर बनाई गई इस पट्टिका की भी उन्होंने भूरी-भूरी प्रशंसा की। इस दौरान प्रमुख शासन सचिव पर्यटन विभाग श्रेया गुहा, आयुक्त नगर निगम जयपुर गे्रटर एवं जयपुर हैरिटेज विजय पाल सिंह, पुरातत्व विभाग के डॉयरेक्टर प्रकाश चन्द शर्मा, इतिहासकार रीमा हूजा, द्रौणा डॉयरेक्टर शिखा जैन, अतिरिक्त आयुक्त अरूण गर्ग सहित नगर निगम एवं पर्यटन विभाग के आलाधिकारी उपस्थित रहे।


Comments