सरकारी एवं निजी हॉस्पिटल में मेडिकल ऑक्सीजन गैस सिलेण्डर की निर्वाध आपूर्ति बनाए रखने के लिए आपूर्तिकर्ताओं को जिला कलक्टर ने दिये निर्देश- निर्देशों का उल्लंघन किये जाने पर संबंधित आपूर्तिकर्ता के खिलाफ की जाएगी सख्त कार्यवाही
जयपुर, 16 अप्रेल। जयपुर जिले में मेडीकल ऑक्सीजन गैस सिलेण्डर की निर्वाध आपूर्ति बनाये रखने के लिये जिला कलक्टर श्री अन्तर सिंह नेहरा की अध्यक्षता में जिला कलक्ट्रेट सभागार में शुक्रवार को बैठक आयोजित की गई।
जिला कलंक्टर श्री अन्तर सिंह नेहरा ने इस अवसर पर कहा कि कोविड-19 संक्रमण की दर तेजी से बढ़ने के कारण मेडिकल ऑक्सीजन की मांग में काफी वृद्धि हुई है इसके लिये आवष्यक है कि मेडिकल आॅक्सीजन की सतत आपूर्ति सुनिष्चित की जाए तथा गैस सिलेण्डर की सप्लाई व्यवस्था सुचारू रूप से चलनी चाहिए, इसके लिये सभी आपूर्तिकर्ताओं द्वारा प्राथमिकता के साथ कार्य किया जाना चाहिए।
श्री नेहरा ने सहायक औषधि नियंत्रक को निर्देश दिये कि कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम हेतु आपातकालीन परिस्थिति में उपयोग करने हेतु कम से कम 300 डी-टाइप मेडिकल ऑक्सीजन गैस सिलेण्डर का बफर स्टोक रखना सुनिश्चित करे। इसके साथ ही किसी भी आपातकालीन स्थिती में उपयोग करने हेतु जिले में ऐसे फैक्ट्री, कारखाने, उद्यौग, जिसमें मेडिकल ऑक्सीजन गैस का उत्पादन किया जाता हैं को चिन्हित कर सूची बनाकर तैयार रखा जााए ताकि आवश्यकता होने पर अधिग्रहण किया जा सके।
जिला कलक्टर ने आपूर्तिकर्ताओं को सम्बोधित करते हुये कहा कि यदि किसी भी आपूर्तिकर्ता द्वारा निर्देषों की अनुपालना नहीं की गई तो उसके विरूद्ध आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 एवं राजस्थान महामारी अधिनियम के तहत कार्यवाही की जायेगी।
बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रथम) श्री इकबाल खान, अतिरिक्त जिला कलक्टर (चतुर्थ) श्री अशोक कुमार सहित औषधि नियंत्रक एवं विभिन्न गैस आपूर्तिकर्ता उपस्थित रहे।
Comments