अंतर्राष्ट्रीय मानव अधिकार एवं सामाजिक न्याय संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज ने बताया किसी राष्ट्रीय पदाधिकारी ने अपने पद का दुरुपयोग किया, कोर कमेटी और राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज सिंह ने अपने लीगल पैनल को दिए जांच के आदेश..
अंतर्राष्ट्रीय मानव अधिकार एवं सामाजिक न्याय संगठन के बिहार अध्यक्ष कलामुद्दीन को बर्खास्त किया गया था और कोर कमेटी के निर्णय अनुसार उन पर एफ आई आर कराने की बात की गई थी इस पर राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज सिंह ने कोर कमेटी को यह निवेदन किया था मोहम्मद कलामुद्दीन को अपना पक्ष रखने का मौका देना चाहिए उनके निवेदन को कोर कमेटी में स्वीकार किया और अपना पक्ष रखने के लिए मोहम्मद कलामुद्दीन को जयपुर कार्यालय में पेश होने के लिए कहा गया इस पर कलामुद्दीन जी अपना पक्ष रखने के लिए जयपुर आए उनके पक्ष को देखकर और दिए गए सबूतों को मद्देनजर देखते हुए अंतर्राष्ट्रीय मानव अधिकार एवं सामाजिक न्याय संगठन की कोर कमिटी ने उन्हें संपूर्ण रुप से दोषमुक्त कर दिया. और उन पर लगाए गए सारे आरोपों को खंडित कर दिया गया.
कोर कमेटी ने यह भी निर्णय लिया की गलत तरीकों से संस्था के नाम पर धन संचय करना और अपने उच्च पद पर होने की धौंस देकर उस धन में से अपना हिस्सा मांगना संस्था की नजर में एक कानूनी अपराध है इस पर राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज सिंह ने कहा इस तरह की हरकत करता हुआ किसी भी पद पर बैठा हुआ पदाधिकारी अगर अपने सह पदाधिकारी के साथ यह व्यवहार करता है तो उसे तुरंत संस्था से बाहर कर दिया जाएगा और उस पर कानूनी कार्रवाई होगी और राष्ट्रीय निदेशक रुपेश जौहरी और कोर कमेटी के सदस्य और राजस्थान अध्यक्ष श्री राम नारायण मावलिया ने मोहम्मद कलामुद्दीन को इज्जत के साथ वापस अंतर्राष्ट्रीय मानव अधिकार एवं सामाजिक न्याय संगठन की टीम में सम्मिलित किया.
Comments