गुरूसर के पास नहर में डुबो कर महिला की हत्या का खुलासा : पत्नी के चरित्र पर शक होने से पति ने दोस्त के साथ मिल कर की थी हत्या
हनुमानगढ़ 10 अगस्त। गुरूसर के पास नहर में डुबो कर महिला की हत्या का खुलासा कर पुलिस ने शेरेका, थाना टिब्बी निवासी महिला के पति अमनचैन पुत्र देवानन्द विश्नोई (28) व उसके सहयोगी मुकेश उर्फ मकड़ा पुत्र मनी राम कुम्हार (28) को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों अभियुक्तों को कोर्ट में पेश कर पुलिस रिमाण्ड हासिल किया गया है। जिनसे अन्य नामजद आरोपितों की अपराध में भूमिका के बारे में गहन अनुसंधान जारी है। 
      एसपी हनुमानगढ़ ने बताया कि 4 अगस्त को मृतक महिला के भाई ढाणी डाबला निवासी विक्रम ने जीजा अमन चैन, उसके परिजनों व दोस्त मुकेश उर्फ मकड़िया के विरुद्ध दहेज के लिए परेशान करने व हत्या करने की रिपोर्ट दी जिसमे बताया कि 6 साल पहले उसकी बहन की शादी अमनचैन पुनियां के साथ 25 नवम्बर, 2015 को हुई थी, उसका पति व परिजन दहेज की मांग करते थे, अचानक 3 अगस्त को गुरूसर के पास नहर में डूबने से बहन की मौत हो जाना उसके जीजा ने उसे बताया। इस पर मुकदमा दर्ज कर अनुसन्धान आरपीएस देवानन्द द्वारा शुरू किया गया। आईजी प्रफुल्ल कुमार के निर्देशन व एएसपी जसाराम बोस के सुपरविजन में तीन विशेष टीम गठित की गई।
    अनुसंधान अधिकारी व टीमों ने गहन अनुसंधान कर प्रकरण की वास्तविकता का मालूमात कर पाया गया कि अमनचैन को पत्नी भावना के चरित्र पर शक था, जिस वजह से उसने अपने साथी मुकेश उर्फ मकड़ा के साथ मिलकर भावना के कत्ल की योजना बनाई। योजनानुसार 3 अगस्त को अमनचैन अपनी पत्नी भावना को दवा दिलाने के बहाने हनुमानगढ की तरफ ले गया, रास्ते से अपने साथी मुकेश उर्फ मकड़ा को साथ ले लिया।
     रास्ते में गुरूसर नहर के पास उन्होंने कार में पहले से रखे बडे़ प्लास्टिक के बर्तन में भावना का सिर डूबोकर मारने का प्रयास किया, परन्तु सफल नहीं हो सके। उसके बाद दोनों कार को नहर में उतार दिया ओर खुद बाहर आ गए। पीछे-पीछे भावना ने नहर से बाहर निकलने का प्रयास किया तो दोनों ने उसे वहीं नहर में ही दबोच लिया और डूबाकर हत्या कर दी। 
                          -------------
Comments