राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग सदस्या की बैठक सफाई कर्मचारियों से सम्बन्धित मामलों का हो त्वरित निस्तारण
जयपुर, 4 अगस्त। राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग की सदस्या श्रीमती अंजना पंवार ने सफाई कर्मचारियों से सम्बन्धित दर्ज मामलों के त्वरित निस्तारण की आवष्यकता प्रतिपादित की है। प्रदेश में विगत 3 वर्षों में एससी एसटी एक्ट के तहत सफाई कर्मचारियों से सम्बन्धित दर्ज सभी 25 मामलों पर आवष्यक कार्यवाही की जा चुकी है।  
श्रीमती पंवार बुधवार को प्रातः पुलिस मुख्यालय में आयोजित समीक्षा बैठक को सम्बोधित कर रही थी।उन्होंने सफाई कर्मचारियों के योगदान की सराहना करते हुए कहा कि सफाई कर्मचारी विपरीत परिस्थितियों में समाज की महती सेवा कर रहे है अतः उन्हें सभी आवष्यक सुविधाएं सुलभ किये जाने की जरूरत है। उन्हांेने राजस्थान पुलिस में कार्यरत स्थाई सफाई कर्मचारियों की संख्या बढाने की भी आवष्यकता प्रतिपादित की। 
श्रीमती अंजना पंवार ने राजस्थान पुलिस में कार्यरत स्थाई व अस्थाई सफाई कर्मचारियों से बातचीत की एवं विस्तार से जानकारी ली। सफाई कर्मचारियों से उन्हें मिलने वाली सुविधाएं यूनिफार्म, चिकित्सा जॉच, अवकाष, सुरक्षा उपकरण (मास्क, जूते, ग्लब्स) समय पर वेतन, टीकाकरण इत्यादि के बारे में चर्चा की। सभी सफाई कर्मचारियों ने उन्हें मिलने वाली सुविधाओं पर सन्तोष व्यक्त किया। उन्होंने सफाई कर्मचारियों के स्वीकृत पदों में वृद्धि का सुझाव दिया। उन्होंने सीवर डेथ की मामलों में तत्काल प्राथमिकता दर्ज कराने एवं आवष्यक कार्यवाही करने की आवष्यकता प्रतिपादित की, जिससे बिना सुरक्षा उपरकणों के सीवर में उतारने के लिए जिम्मेदार व्यक्तियों के विरूद्ध कार्यवाही की जा सके। 
पुलिस महानिदेशक श्री एम एल लाठर ने बताया कि राजस्थान पुलिस में वर्तमान 910 पुलिस थाने एवं 1244 पुलिस चौकियां संचालित है और सफाई कर्मचारियों के स्वीकृत 336 पदों के विरूद्ध 284 सफाई कर्मचारी कार्यरत है। इसके अतिरिक्त सामान्य वित्तीय एवं लेखा नियम के तहत 1249 अस्थाई कर्मचारियों की सेवाएं ली जा रही है। अस्थाई सफाई कर्मियों को नियमानुसार प्रतिव्यक्ति अकुशल को अधिकतम 1200 एवं कुशल को अधिकतम 1800 रूपये की राषि का भुगतान कार्यालय व्यय मद से किया जाता है। 
श्री लाठर ने बताया कि विगत 3 वर्षाें में एससीएसटी एक्ट के तहत सफाई कर्मचारियों के वर्ष 2018 में 12 वर्ष, वर्ष 2019 में 9 एवं वर्ष 2020 4 मामले दर्ज हुए। इन सभी मामलों में आवष्यक कार्यवाही कर ली गयी है तथा इससे सम्बन्धित कोई भी प्ररकण कार्यवाही हेतु शेष नहीं है। 
महानिदेशक पुलिस मानवाधिकार श्रीमती नीना सिंह ने राजस्थान पुलिस में कार्यरत सफाई कर्मचारियों के लिए की जा रही विभिन्न कल्याणात्मक गतिविधियों की जानकारी दी। बैठक में अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस श्री गोविन्द गुप्ता, श्रीमती बिनीता ठाकुर, श्री संजीव नार्जरी, उपमहानिरीक्षक पुलिस श्री अशोक गुप्ता   वित्तीय सलाहकार श्री आलोक माथुर सहित सम्बन्धित अधिकारीगण मौजूद थे। राजस्थान पुलिस में कार्यरत स्थाई एवं अस्थाई सफाई कर्मचारीगण भी उपस्थित थे।
Comments